हैकर्स बैंक अकाउंट हैक कैसे करते है और हैकिंग से कैसे बचे

क्या आप जानते है हैकर्स बैंक अकाउंट हैक कैसे करते है? अगर आपको जानकारी होगी तभी आप अपने ऑनलाइन बैंक अकाउंट को सेफ एंड सिक्योर रख सकते है। आज ऑनलाइन बैंकिंग की वजह से हमने तरक्की तो कर ली है पर कुछ बेड हैकर्स होते है जो इस तरक्की को अपने फायदे के लिए यूज़ करते है और किसी का बैंक अकाउंट हैक कर लेते है। आज ऐसे हैकर्स की संख्या तेज़ी बढ़ रही है अगर यकीन ना हो तो गूगल पर सर्च कर के बैंक अकाउंट हैक होने की न्यूज़ के बारे में पढ़ सकते है।

हैकर्स बैंक अकाउंट हैक कैसे करते है और हैकिंग से कैसे बचे

अब हैकर्स या चोर जैसे लोग बदलते ज़माने के साथ स्मार्ट हो गए है। पहले बैंक में जा कर वहा लोगो को डरा धमका कर पैसो की चोरी की जाती थी और अब ज़माना स्मार्ट तो ऐसे लोग भी स्मार्ट। ये सब छोड़ कर अब बस घर बैठे आराम से ऑनलाइन ही लोगो के बैंक अकाउंट को हैक कर रहे है। पुलिस या साइबर डिपार्टमेंट के अलावा आम जनता में से किसी को भी नहीं पता होता की ऑनलाइन बैंक अकाउंट कैसे हैक हो रहे है। अगर कुछ पता होगा तभी तो उससे बचने का सोल्युशन निकलेगा। इसी समस्या को ध्यान में रखते हुए हमने ऑनलाइन बैंकिंग फ्रॉड और साइबर क्राइम पर रिसर्च किया और पता लगा लिया है की बैंक अकाउंट कैसे हैक हो रहे है और उनसे बचने के तरीके क्या है।

हैकर्स बैंक अकाउंट हैक कैसे करते है

सबसे पहली बात आज हर तरह की ऑनलाइन बैंकिंग फैसिलिटी पूरी तरह से सुरक्षित है, अगर कोई हैकर सोचता है की भाई हम तो प्रोग्रामिंग और कोडिंग द्वारा sbi bank account हैक कर के करोड़ो रुपये चोरी कर लेंगे तो वो बिलकुल गलत है। sbi की online website या किसी भी बैंक की ऑनलाइन वेबसाइट में कोई भी प्रोग्रामिंग लैंग्वेज या कोडिंग में किसी भी तरह का एडिट नहीं कर सकता क्यों की वहा परमिशन ही नहीं होती। तो अब सवाल उठता है लोग हैकिंग कैसे कर रहे है। इसका एक ही जवाब है अपना दिमाग चला कर ये लोग जुगाड़ करते है या टिप्स एंड ट्रिक्स को यूज़ करते है, वो सब क्या है सब बता रहा हु।

(1) ऑनलाइन फ्रॉड

  • दुनिया में हर एक इंसान चालाक नहीं होता, बहुत से ऐसे इंसान है जो किसी की भी बात को मान लेते है और उसपर यकीन कर लेते है। बस इसी बात का फायदा उठाते हुए हैकर्स ऐसे लोगो को कॉल करता है और कहता है “हम आपके बैंक से बोल रहे है, वेरिफिकेशन के लिए हमें आपकी बैंक डिटेल्स चाहिए, वरना आपका बैंक अकाउंट आज बंद हो जायेगा” ऐसी बात सुन कर नादान लोग घबरा कर जो डिटेल्स मांगते है वो दे देते है। और इन्ही डिटेल्स के आधार पर उसके अकाउंट को हैक कर लिया जाता है।
  • ये तो सिर्फ एक नमूना था, ऐसे ही हैकर्स कभी लड़की बन कर मैसेज करता है तो कभी लड़की बन कर प्यार भरी बातें करने लगता है। हैकर लोग जिसका अकाउंट हैक करना है उस व्यक्ति के बारे में पहले ही रिसर्च कर के रखते है और ऐसे ही नादान भोले व्यक्तियों को टारगेट किया जाता है। उन्हें पता है की अगर कोई मज़बूत व्यक्ति को परेशान करेंगे तो गालिया मिलेगी और कुछ फायदा भी नहीं होगा।
  • अगर आप गूगल पर रिसर्च करते है तो पता चलेगा की सबसे ज्यादा ऐसे ही केस देखने को मिल रहे है जिसमे कोई फर्जी कॉल से हैकिंग हुआ या फर्जी मैसेज से। तो बैंक तो पूरी तरह से सुरक्षित है बस आप भोले बन कर बेवकूफ ना बने यही टिप्स है ऑनलाइन फ्रॉड से बचने की। कोई भी बैंक कभी ऐसे कॉल कर के आपकी पूरी डिटेल्स नहीं मांगता। और ख़ास कर अपना पासवर्ड, एटीएम पिन जैसी डिटेल्स तो किसी को भी नहीं बतानी चाहिए।

(2) फिशिंग का तरीका

  • हैकिंग वर्ल्ड में हैकर्स के लिए ये तरीका तो भाई सबसे ज्यादा महान है, बस किसी भी बैंक वेबसाइट का फेक पेज बना डालो और हो गया काम। हमारे देश में बहुत से लोग ऑनलाइन नेट बैंकिंग का या मोबाइल बैंकिंग का यूज़ कर रहे है। अब हैकर्स ऐसे लोगो को बिलकुल उनकी वेबसाइट जैसी दिखने वाली फेक वेबसाइट पेज बना कर सेंड करता है। इस फेक वेबसाइट पेज के साथ कुछ आकर्षित लाइन जोड़ देते है जैसे “यहाँ लॉगिन करे आपको sbi bank 1000 रुपये का फ्री कॅश दे रहा है” या “आपके बैंक अकाउंट में 10000 जमा करने के लिए तुरंत यहाँ लॉगिन करे” फिर क्या बस ऐसी फर्जी लाइन देख कर फेक वेबसाइट में लॉगिन कर लेता है और हैकर्स को उसका ID और पासवर्ड मिल जाता है।

हैकर्स बैंक अकाउंट हैक कैसे करते है और हैकिंग से कैसे बचे हैकर्स बैंक अकाउंट हैक कैसे करते है और हैकिंग से कैसे बचे

  • तो मेरे प्यारे भोले लॉग समझने की कोशिश करे कोई भी बैंक आपको ऐसे ही फ्री कॅश नहीं दे देती और ऐसी आकर्षित लाइन तो कभी नहीं लिखती। और सबसे बड़ी बात ऊपर के स्क्रीनशॉट के अनुसार आपकी ऑनलाइन वेबसाइट हमेशा सही यूआरएल एड्रेस के साथ सिक्योर होगी। और फर्जी वेबसाइट दूसरे स्क्रीनशॉट की तरह कोई भी यूआरएल एड्रेस की होगी।

(3) डिटेल्स की चोरी

  • आपने फिल्मो में देखा होगा की पुलिस चोर को पकड़ने के लिए एक सुराग के ऊपर बहुत सी डिटेल्स के बारे में पता लगा लेता है। बिलकुल उसी तरह स्मार्ट हैकर्स भी आपकी एक छोटी सी जानकारी के आधार पर पूरी डिटेल्स निकाल कर हैकिंग कर लेता है। मान लीजिये हैकर् को बैंक अकाउंट हैक करने के लिए आपका मोबाइल नंबर चाहिए जिसके द्वारा वह otp verification से पसवर्ड चेंज कर के ऑनलाइन बैंकिंग में लॉगिन कर पाए तो निचे पढ़िए अब वह क्या करेगा।
  • हैकर आपके फेसबुक अकाउंट को चेक करेगा और उसमे से आपका नाम और बर्थडेट जान लेगा। फिर इनकम टैक्स की वेबसाइट पर जा कर आपका नाम और बर्थडेट एंटर करेगा जिसके द्वारा उससे जुड़े पैनकार्ड के बारे में पता चलेगा। अब इसी पैनकार्ड इनफार्मेशन से वह डुप्लीकेट पैनकार्ड बनवा लेगा। अब इस नकली पैनकार्ड डॉक्यूमेंट के आधार पर वो आपके नाम का सिम कार्ड लेगा और नंबर वही होगा जो आपके बैंक अकाउंट के साथ लिंक है। अब आप सोच सकते है नंबर मिलने के बाद तो आसानी से नेट बैंकिंग का पासवर्ड चेंज कर सकता है।
  • इसी तरह हैकर बहुत से अल्टरनेट तरीके आज़मा कर आपकी डिटेल्स की चोरी करने की कोशिश करता है। तो इस हैकिंग से बचने के लिए अपनी बर्थडेट हर जगह शो ना रखे और अगर आपका चालु सिम कार्ड बंद हो रहा है तो सिम कंपनी को तुरंत कॉल कर के बता दीजिये की मेरा सिम कार्ड बन कैसे हुआ, मैंने कोई भी दूसरे नए सिम कार्ड के लिए अप्लाई नहीं किया और किसी दूसरे ने ऐसा किया है तो कंप्लेंट करे वो फर्जी है। और इस तरह का कांड होने पर साइबर क्राइम में भी रिपोर्ट जरूर करे साथ ही में हमेशा अपने नेट बैंकिंग में लॉगिन एलर्ट की फैसिलिटी इनेबल रखे।

फेसबुक या किसी भी वेबसाइट को हैक कैसे करते है

बैंक हैकिंग से कैसे बचे (Safety Tips)

  • बैंक हैकिंग से बचने के लिए वैसे मैंने ऊपर ही सब बता दिया है फिर भी एक बार बता दू की ज्यादातर उन्ही लोगो का बैंक अकाउंट हैक हो रहा है जो अपने भोलेपन के लिए मशहूर है और बैंक में अच्छे खासे पैसे जमा कर रखे है।
  • तो दोस्तों बस इतना ही कहना चाहता हु आप कितने भी भोले हो कोई टेंशन नहीं बस ऐसे मामलो में चालक बने। फर्जी लोगो से बच कर रहे और किसी के कहने पर कभी उसके बनाये नेट बैंकिंग वेबसाइट पेज में लॉगिन ना करे।
  • कोई बैंक डिटेल्स के लिए कॉल करता है तो सबसे पहले Truecaller ऑन रख कर उसका नंबर देख लेना कोई फर्जी है तो कट कर दीजिये। और बैंक से जुडी कोई भी ख़ास डिटेल्स मांगता है तो बिलकुल मत दीजिये जैसे आपका पासवर्ड और पिन डिटेल्स। अगर डर लगता है तो कॉल रखो और अपने बैंक से ही मिल कर आये सब क्लियर हो जायेगा।
  • ऑनलाइन बैंकिंग के मामलो में कुछ भी गलत होता हुआ नज़र आये तो तुरंत साइबर क्राइम में अपनी कंप्लेंट करे। साइबर क्राइम के बारे में नहीं पता तो साइबर क्राइम क्या है पोस्ट ज़रूर पढ़ लेना। और साइबर क्राइम के कानून के बारे में जानने के लिए यहाँ पढ़े !

मोबाइल से कंप्यूटर को कण्ट्रोल कैसे करे

इसी तरह एटीएम कार्ड भी हैक हो रहे है जिसके बारे में नेक्स्ट पोस्ट में बता जायेगा। पोस्ट की अपडेट पाने के लिए ब्लॉग को सब्सक्राइब कर सकते है। और हां यह जानकारी हर व्यक्ति तक पहुचनी ज़रूरी है इसलिए इसे हो सके उतना शेयर ज़रूर करे। मिलते है अपनी नेक्स्ट पोस्ट में तब तक टेक केयर।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *