फेसबुक या किसी भी वेबसाइट को हैक कैसे करे (6 आसान तरीके)

फेसबुक हैकिंग के बारे में इंटरनेट पर लोग अलग अलग तरीके बता रहे है। जो पूरी तरह से काम करते है लेकिन आज की डेट में फेसबुक ने अपनी सिक्योरिटी को कुछ ज्यादा ही बढ़ा लिया है जिसकी वजह से हैकिंग पहले जितना आसान नहीं रहा। लेकिन इन्ही तरीको में आप कुछ टिप्स एंड ट्रिक्स को यूज़ कर के फेसबुक हैकिंग को सिख सकते है। फेसबुक हैक कैसे करे आज कठिन सवाल बन गया है, काफी सोचने के बाद इसका जो भी सोल्युशन मिला है वो आज आपके साथ पूरी जानकारी के रूप में शेयर कर रहा हु।

फेसबुक या किसी भी वेबसाइट को हैक कैसे करे (6 आसान तरीके)

फेसबुक वेबसाइट हैक कैसे करे (6 तरीके)

दोस्तों यहाँ पर फेसबुक हैक करने का तरीका तो शेयर कर रहा हु पर साथ में उससे जुडी सच्चाई भी शेयर कर रहा हु। अब कुछ लोग जो इंटरनेट पर रोज़ बेवकूफ बनते रहते है वो लोग यही चाहते है हमें सच्चाई नहीं जाननी बस फेसबुक हैक करना का कोई बी तरीका बता दो फिर वो फेक ही क्यू ना हो कोई फ़र्क़ नहीं पड़ता। तो माफ़ करियेगा दोस्तों ऐसा काम मेरा नहीं है। जो भी है पूरी सच्चाई के साथ ही है, जिसको बोर लगे वो जा सकते है। तो शुरू करते है फेसबुक हैक कैसे करे।

(1) फिशिंग और लॉगिन वेबसाइट की सिक्योरिटी

  • सबसे पहले यह समझ लेते है की लॉगिन वेबसाइट होता क्या है। तो दोस्तों जिस भी वेबसाइट में यूजर लॉगिन कर सकता है या अपना अकाउंट बना सकता है उसे लॉगिन वेबसाइट कहते है। जैसे की फेसबुक, इंस्टाग्राम, जीमेल और बहुत सी वेबसाइट। अगर आप गूगल पर सर्च करते है की लॉगिन वेबसाइट हैक कैसे करे तो आपको सबसे आसान तरीका मिलेगा की लॉगिन वेबसाइट का फिशिंग पेज बना कर हैक कर सकते है।
  • ये बात बिलकुल सच है आज से कुछ टाइम पहले किसी भी वेबसाइट का लॉगिन पेज बना कर उसे आसानी से हैक किया जा सकता था। पर अब बात कुछ और है क्यों की हाई सिक्योरिटी वेबसाइट का लॉगिन पेज ही नहीं बन पाता। हैकिंग से बचने के लिए हर किसी ने अपनी सिक्योरिटी को काफी हद तक इम्प्रूव कर लिया है। जिस वजह से गूगल क्रोम ब्राउज़र से लेकर वेबसाइट सब सिक्योर हो गया है।
  • जैसे की मैंने फेसबुक फिशिंग पेज बनाने के लिए zshadow या anamor जैसी वेबसाइट को ओपन किया। लेकिन फेसबुक, क्रोम ब्राउज़र और इंटरनेट की सिक्योरिटी हाई होने की वजह से कोई भी फिशिंग पेज ओपन ही नहीं हो पाता। ओपन होने से पहले ही क्रोम और इंटरनेट सिक्योरिटी उसे वॉर्निंग के साथ ब्लॉक कर देती है। और इसी वजह से जब ऐसे फिशिंग पेज किसी विक्टिम को सेंड करते है तो उसे भी पता पता चल जाता है की यह हैकिंग पेज है।

लो सिक्योरिटी वेबसाइट होगी हैकिंग का शिकार

90% केसेस में फेसबुक इंस्टाग्राम जैसी हाई सिक्योर वेबसाइट को फिशिंग पेज से हैक नहीं किया जा सकता। अगर कोई खूब महेनत कर के फिशिंग पेज बना भी लेगा तो वो ब्राउज़र द्वारा इनवैलिड हो जायेगा। में आपको बता दू की 4 लेवल होते है सिक्योरिटी सिस्टम के।

  1. इंटरनेट
  2. ब्राउज़र
  3. वेबसाइट
  4. डिवाइस

इंटरनेट सिक्योरिटी गोवेर्मेंट के हाथ में है जैसे आज जिओ ने सभी पोर्न वेबसाइट को ब्लॉक कर दिया है। ब्राउज़र सिक्योरिटी जो ब्राउज़र यूज़ करते है उस कंपनी के हाथ में है और आज तो सभी के पास मोस्ट सिक्योर ब्राउज़र गूगल क्रोम है। वेबसाइट सिक्योरिटी में सभी पॉपुलर लॉगिन साइट का समावेश हो जाता है। और डिवाइस सिक्योरिटी यानी की आज जो भी नया स्मार्टफोन खरीदता है उसमे पहले से डिवाइस सिक्योरिटी इनेबल होती है।

अब यहाँ पर इंटरनेट, ब्राउज़र और डिवाइस सिक्योरिटी तो हाई ही रहेगी। अब जो भी वेबसाइट लो सिक्योरिटी पर है उसे फिशिंग मेथड द्वारा हैक किया जा सकता है।

(2) Keylogger हैकींग

  • Keylogger टाइपिंग इनफार्मेशन को हैक करता है। किसी के कंप्यूटर या मोबाइल में keylogger इनस्टॉल कर दे तो वो जो भी अपने कीबोर्ड द्वारा टाइप करेगा उसकी सारी इनफार्मेशन हमें मिलती रहेगी। लेकिन ऐसा करने के लिए आपको जिसका भी फेसबुक अकाउंट हैक करना है उसके मोबाइल या कंप्यूटर में keylogger सॉफ्टवेयर को इनस्टॉल करना पड़ता है।
  • गूगल पर सर्च करोगे तो बहुत से keylogger मिल जायेगे और इस तरीके से फेसबुक क्या वो जितने भी लॉगिन वेबसाइट में अपना पासवर्ड एंटर करेगा वो सब पता चल जायेगा। Keylogger को एक तरह से all in one हैकिंग सॉफ्टवेयर भी कहा जाता है क्यों की इसके द्वारा विक्टिम को पता भी नहीं चलता और उसके फेसबुक अकाउंट से लेकर हर टाइपिंग अकाउंट के पासवर्ड के बारे में पता चल जाता है।

(3) फिशिंग एप्लीकेशन

  • जैसा की मैंने बताया हैकर लोग किसी का अकाउंट हैक करने के लिए एक तरीके को अलग अलग तरह से आज़माते है। अब इसमें सबसे पहले फिशंग पेज बनाया जाता है फिर वही फिशिंग पेज की लिंक को AppsGeyser वेबसाइट की मदद से एप्लीकेशन बना दिया जाता है। और यह एप्लीकेशन विक्टिम को देकर कहा जाता है की एक बार चेक कर के बताओ ना मैंने फेसबुक का नया एप्लीकेशन कैसे बनाया है? और जब वो चेक करने के लिए अपनी ID और पासवर्ड एंटर करता है तो उसकी सारी डिटेल्स आपको मिल जाती है।

(4) स्पाई सॉफ्टवेयर

  • मेरी नज़र में आज की डेट में अगर हैकिंग करने का कोई सबसे आसान तरीका है तो वो है बस स्पाई सॉफ्टवेयर को किसी के स्मार्टफोन में इनस्टॉल कर दो। इसमें बस विक्टिम का फ़ोन 5 मिनट के लिए लेना होता है और उसमे स्पाई सॉफ्टवेयर इनस्टॉल करना होता है। उसके बाद उसके स्मार्टफोन में एप्लीकेशन हैकिंग, फाइल्स हैकिंग और कॉल्स हैकिंग सब हो जायेगा। मतलब की व्हाट्सएप्प फेसबुक तो हैक होगा ही लेकिन साथ में कॉल रिकॉर्डिंग, फोटो फाइल्स, लोकेशन वो सब भी हैक हो जायेगा। पूरा तरीका जानने के लिए मोबाइल हैक कैसे करे पोस्ट पढ़े।

(5) ब्रूटफाॅर्स अटैक

  • आपने फिल्मो में बताई गयी हैकिंग तो देखि ही होगी जिसमे कंप्यूटर को धड़ाधड़ स्कैन कर के हैक कर लिया जाता है बस यही तकनीक है ब्रूटफाॅर्स अटैक। इस टेक्निक में ना विक्टिम के स्मार्टफोन की जरुरत है और ना ही उसके कंप्यूटर की जरुरत है। बस एक पासवर्ड की लिस्ट बनाओ और अकाउंट हैक कर दो। या सॉफ्टवेयर को ऑटोमेटिकली खुद पासवर्ड बना कर हैकिंग करने दो, आपको बस शान्ति से बैठ कर पूरा तमाशा देखते रहना है। फेसबुक हैक करने का तरीका पूरा जानने के लिए यहाँ पढ़े !

(6) सोशल इंजीनियरिंग अटैक

वैसे तो ये कोई हैकिंग ट्रिक नहीं है फिर भी इसकी गिनती हैकिंग में ही होती है। जिसमे आपका ही कोई दोस्त या रिश्तेदार होता है जो आपकी पसंद-नापसंद के बारे में सब जनता है और यह सारी जानकारी के ऊपर आपका फेसबुक अकाउंट हैक कर लेता है। फेसबुक के लॉगिन पेज में एक ऑप्शन आता है फॉरगॉट पासवर्ड का यही ऑप्शन पर क्लिक कर के पासवर्ड रिकवर करने के बहुत से मेथड खोल दिए जाते है। जैसे की कही बार तो बस सवाल जवाब में ही पासवर्ड चेंज हो जाता है। जैसे आपकी ममी का नाम क्या है, आपकी जन्मतारीख क्या है, आपका बेस्ट फ्रेंड कौन है और पासवर्ड चेंज।

अब हैकिंग कर कर के इतने सारे क्राइम करने वाले हो तो एक बार साइबर क्राइम के कानून क्या है पोस्ट जरूर पढ़ लेना। और ज्यादा जानकारी के लिए साइबर क्राइम क्या है पोस्ट पढ़े।

तो यहाँ पर पोस्ट होता ख़तम और आशा करता हु फेसबुक या किसी भी वेबसाइट को हैक कैसे करे जानकारी आपको पसंद आयी होगी। पसंद आने पर पोस्ट को शेयर और ब्लॉग को सब्सक्राइब जरूर करे। मिलते है अपनी नेक्स्ट हैकिंग पोस्ट में तब तक टेक केयर।

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *