अपनी किसी भी प्रोब्लेम को सिर्फ 2 मिनट में कैसे सॉल्व करे – 3 Master Techniques

क्या आप अपने जीवन में बार बार आने वाली प्रोब्लेम्स परेशान है तो यह सुने हॉलीवुड एक्टर जॉनी डीप का यह कहना है की “यह पूरी लाइफ क्या है की 10% क्या हुआ, और 90% कैसे आपने उस पर React किया” उसके ऊपर डिपेंड करता है। यानी की प्रॉब्लम सिर्फ 10% जितनी होती है और हम उसे 90% बड़ा कर के सोचते है और फिर अंदर ही अंदर खुद परेशान होते रहते है। जब भी कोई प्रोब्लेम आती है तो इंसान बेबस हो जाता है, खुद को कमज़ोर मानता है और अपने solution के लिए यहाँ वहा भटकने लगता है। उसे ऐसा लगता है की प्रोब्लेम का सोल्युशन बहार है जबकि पूरा solution खुद के अंदर ही पड़ा होता है बस देखने का और समझने के सही नज़रिया चाहिए।

problem solve in hindi

कोई भी प्रोबलेम बड़ी नहीं होती है बड़ा उसे हम बनाते है, हां हमें लग सकता है its major problem पर most of cases में वह सामान्य ही होती है। जैसे ही कोई problem mind में घुस गयी तो उसको सोचने में ही अपना कीमती time waste कर देते है। पर अब ऐसा नहीं होगा, क्यों की में आपको बताना चाहता हु की कुछ ऐसी Techniques है जिसे आप अपना time waste किये बिना कुछ ही मिनिटो में खुद अपनी बड़े से बड़ी प्रॉब्लम को आसानी से सॉल्व कर सकते है। तो आइये जानते है क्या है वो 3 Master Techniques !

Technique No 1 : खुद से सवाल करे

  • याद करो आपकी लाइफ में कोई तो दिन ऐसा होगा जब आपके पास आपका दोस्त उसकी प्रॉब्लम लेके आया होगा और आपसे कहा होगा की “मेरे साथ बहुत बुरा हो रहा है, में पूरी तरह से फस चूका हु मुझे कुछ समझ नहीं आ रहा में क्या करू तू ही कुछ बता दे इतनी बड़ी प्रॉब्लम से बहार कैसे निकलू ?” तब आपने उसे चुप किया होगा फिर किसी बड़े एक्सपर्ट की तरह कुछ ही मिनटों में उसकी प्रॉब्लम का सोल्युशन ढूंढ निकाला होगा। अगर फिर भी वह खुश नहीं होता तो आप उसके लिए एक से बढ़कर एक सोल्युशन निकाल लेते है।
  • अब ज़रा सोचीये आपके दोस्त के लिए प्रॉब्लम बहुत बड़ी थी, अगर सच में वह बहुत बड़ी प्रॉब्लम थी तो आपने उसे तुरंत कैसे solve कर दिया। सोचने वाली बात है एक समस्या एक के लिए बहुत बड़ी तो दूसरे के लिए छोटी है। अगर चाहता तो आपका दोस्त भी खुद प्रॉब्लम को सॉल्व कर पाता पर वह नहीं कर सका और आपने कर दिया। इसकी वजह यह है की कोई भी इंसान hyper condition में अपनी छोटी प्रॉब्लम को भी बड़ा समझ लेता है और उसे सॉल्व नहीं कर पाता।
  • यह तो सिर्फ एक example है ऐसी बहुत सी problems होगी जिसका solution आपने अपने दोस्तों को दिया होगा। पर जब बात खुद की आती है, मतलब जब खुद पर कोई प्रॉब्लम आती है तो हम बड़े कंफ्यूज हो जाते है की क्या करे और क्या ना करे। अगर आपने मेरे यह 2 points ध्यान से पढ़े है तो जवाब आपके सामने है।
  • अब से जब भी कोई प्रॉब्लम आये तो सब से पहले रिलैक्स हो जाये और खुद से पूछे की “भाई, मेरी यह प्रॉब्लम है बता इसका solution क्या है?” आप यकीन नहीं करेंगे पर ऐसा करने से आपके सामने कुछ ही मिनिटो में बहुत सारे solutions निकल कर के आ जायेगे। विश्वाश ना हो तो कभी आज़मा कर देख लेना और महसूस करना की खुद में कितनी पावर पड़ी है।

Technique No 2 : प्रॉब्लम से लड़े

  • एक बात अच्छी तरह से समझ लो, आप अपनी प्रोब्लेम्स से जितना दूर भागोगे उतना ही प्रोब्लेम्स आपके करीब आएगी। इसीलिए प्रॉब्लम से भागे मत, प्रॉब्लम की आँखों में आँखों मिला कर उसे solve करने की कोशिश करे।
  • एक बार स्वामी विवेकानंद जी जंगल से गुज़र रहे थे तभी कुछ बंदरो (monkeys) का जूथ उनके पीछे पड़ा और उनको परेशान करने लगा। स्वामीजी डर गए और भागने लगे, जैसे वह भागे की बंदरो ने ज़्यादा परेशान करना शुरू कर दिया। वहा उपस्थित यह दृश्य देख रहे एक संत ने स्वामीजी से कहा “भाग मत और सीधा खड़ा रह कर बंदरो को भगा” यह सुन कर स्वामीजी में जोश आ गया और उन्होंने कुछ इस तरह से ही किया। स्वामीजी का यह रूप देख कर सारे बंदर भाग गए।
  • इस स्टोरी से हमें सिख मिलती है, कोई भी प्रॉब्लम हो उससे हमें भागना नहीं चाहिए, बल्कि प्रॉब्लम के सामने खड़े हो कर प्रॉब्लम को भगाना चाहिए। एक बार आप हिम्मत करे और प्रॉब्लम के सामने जंग करे I sure वह आपसे दूर चली जाएगी।

Technique No 3 : पावर एक्टिवेट करे

  • अगर आपको ऊपर बताई 2 Techniques से कोई फ़र्क़ नहीं पड़ता तो आपको कुछ words अपने आपको बोलने है। जब आपको लगे की दिमाग काम नहीं कर रहा और प्रोब्लेम्स बढ़ती ही जा रही है तो निचे दी हुई आसान टिप्स को अपनाये।
  • सब से पहले आपको अपनी तनवजनक स्थिति से बहार निकलना है इसलिए जिस भी कंडीशन में हो वहा से उठे और नहा-धोकर एकदम फ्रेश हो जाए। फिर खुद को अच्छे से तैयार कर लीजिये जैसे बाल ठीक से बना कर अच्छे कपडे पहन लीजिये। अब बिना किसी टेंशन के शान्ति से बैठ कर 5 मिनट तक गहरी सांस (Deep Breathing) ले।
  • अब पूरी तरह से normal and relax हो जाने के बाद खुद को कहे “यह प्रॉब्लम बहुत छोटी है, इसका हल तो में आसानी से निकाल सकता हु, इसका solution मेरे ही हाथ में है और में यह कर सकता हु। यह प्रॉब्लम तो कुछ नहीं मेने पास्ट में इसे बड़ी बड़ी प्रॉब्लम्स के सोल्युशन निकाले है और बहुत लोगो को solution दिए भी है। अगर में लोगो की प्रॉब्लम सॉल्व कर सकता हु तो क्या खुद की नहीं कर सकता।
  • बस इतने वर्ड्स बोलते ही आपकी inner power activate हो जाएगी। और फिर देखे कैसे कैसे सोल्युशंस निकल कर आपके सामने आ जाते है।

Final Words

So दोस्तों अगर आपने नोटिस किया है तो आपको पता चल गया होगा की मैंने पूरी पोस्ट में खुद की पावर्स के बारे में ही बात की है। सो कुछ भी हो जाए आपसे जुडी सारी समस्या का हल आपके पास ही है, यहाँ वहा भाग कर अपना समय बर्बाद करने की जरुरत नहीं, बस जरुरत है तो खुद से बात करने की !

किसी भी प्रॉब्लम की इतनी ताकत नहीं की वह आपके सामने टिक पाए इसलिए जब भी अपनी लाइफ में कोई प्रॉब्लम आये तो बिना अपना time waste किये इन 3 Techniques को आज़माये और अपनी हर एक प्रॉब्लम का खुद solution कर के लाइफ को एन्जॉय करे।

पुरे समंदर में एक बड़ा सा जहाज भी डूब नहीं सकता, तब तक जब तक की वह पानी को अपने अंदर ना आने दे

सो अब से कोई भी प्रॉब्लम को अपने अंदर ना आने दे और बहार से ही उसको गोली मार के उसका मर्डर कर दीजिये। यार मेने आपके लिए इतना कुछ दिल से लिखा है तो अब आपका भी फ़र्ज़ बनता है की इस पोस्ट को शेयर कर के आप जैसे ज्यादा से ज्यादा लोगो की हेल्प करे So Must Share ! मिलते है अपनी नेक्स्ट पोस्ट में तब तक Take Care !

Add a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *